भारत दर्शन-बिहार राज्य Bihar State

भारत दर्शन-बिहार राज्य Bihar State


⇒ प्राचीन समय में मगध महाजनपद के नाम से प्रशिद्ध जनपद आज का बिहार राज्य हैं  

⇒मगध जनपद की प्राचीन राजधानी राजगिर  थी और बाद में पाटलिपुत्र हो गयी, यही पाटलिपुत्र वर्तमान में पटना के नाम  से जाना जाता हैं जो की बिहार की राजधानी हैं !
⇒बिहार का सबसे प्राचीनतम वर्णन अथर्ववेद  एवं पंचविश ब्राह्मण ग्रंथ में मिलता है। 
⇒अथर्ववेद  एवं पंचविश ब्राह्मण ग्रन्थों में बिहार के लिए 'ब्रात्य' शब्द का उल्लेख है। 
⇒एक  अनुमान के अनुसार अथर्ववेद की रचना के समय में ही आर्यों ने बिहार के क्षेत्र में प्रवेश किया।
ऋग्वेद में बिहार को कीकट कहा गया हैं!

प्रमुख ब्राह्मण ग्रंथ 

→ शतपथ ब्राह्मण, पंचविश ब्राह्मण, गौपथ ब्राह्मण, ऐतरेय आरण्यक, कौशितकी आरण्यक, सांख्यायन आरण्यक, वाजसनेयी संहिता,
तथा
→ महाभारत तथा रामायण  इत्यादि से  उत्तर वैदिककालीन बिहार की जानकारी मिलती है। 
⇒ बिहार नाम बौद्ध सन्यासियों के ठहरने के स्थान विहार शब्द से हुआ, जिसे विहार के स्थान पर इसके अपभ्रंश रूप बिहार से संबोधित किया जाता है।
⇒ बिहार में बौद्ध धर्म फ़ला फूला 
⇒ मध्यकालीन भारत में बौद्ध धर्म मुहम्मद बिन बख्तियार खिलजी के आक्रमण के समय कम  हो गया
इस दौरान कई विहार और नालंदा और विक्रमशिला के प्रसिद्ध विश्वविद्यालयों को नष्ट कर दिया गया
⇒ आधुनिक  भारत में 1857 के प्रथम सिपाही विद्रोह में बिहार के बाबू कुंवर सिंह ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई
⇒ 1905 में बंगाल का विभाजन के बाद बिहार नाम का राज्य अस्तित्व में आया!
⇒ 1936 में उड़ीसा को बिहार से अलग कर दिया गया!
⇒ स्वतंत्रता के बाद बिहार का एक और विभाजन हुआ और 15 नवंबर 2000 में झारखंड राज्य को इससे अलग कर दिया गया

बिहार को तीन प्राकृतिक विभागो में बाँटा जाता है

1.उत्तर का पर्वतीय एवं तराई भाग,
2. मध्य का विशाल मैदान तथा 
3.दक्षिण का पहाड़ी किनारा।
⇒ जनसंख्या - 10,38,04,6,37
⇒ विधानसभा द्विसदनीय 
⇒ विधानसभा सदस्य 75
⇒ विधानपरिषद  सदस्य 243
⇒ लोकसभा सदस्य 40
⇒ राजयसभा सदस्य 16
⇒ लिंगानुपात : - 992
⇒ जनसंख्या घनत्व 1106 
⇒ बिहार का राज्य पेड़ पीपल है
⇒ बिहार का राज्य पशू बैल हैं 
⇒ बिहार का राज्य  पक्षी गौरैया 
Note
बिहार के उत्तर में  हिमालय पर्वत की नेपाल श्रेणी है दक्षिण में झारखण्ड,पश्चिम बंगाल, पूर्व में नेपाल, और पश्चिम में उत्तर प्रदेश स्थित है
गंगा नदी राज्य के लगभग बीचों-बीच बहती है। उत्तरी बिहार बागमती, कोशी, बूढी गंडक, गंडक, घाघरा और उनकी सहायक नदियों का समतल मैदान है। सोन, पुनपुन, फल्गू तथा किऊल नदी बिहार में दक्षिण से गंगा में मिलनेवाली सहायक नदियाँ है
धान, गेंहूँ, दलहन, मक्का, तिलहन, तम्बाकू,सब्जी तथा केला, आम और लीची जैसे कुछ फलों की खेती की जाती है।
हाजीपुर का केला एवं मुजफ्फरपुर की लीची बहुत ही प्रसिद्ध है।

Comments