भारत दर्शन-असम राज्य Assam State

भारत दर्शन-असम राज्य का इतिहास
भारत दर्शन-असम राज्य का भूगोल
भारत दर्शन-असम राज्य की राजनीती व् प्रशासन
Assam State
असम का प्राचीन नाम : प्राग ज्योतिषपुर , कामरूप प्रदेश
संस्कृति : ऑस्टिक , मंगोल , द्रविण तथा आर्य जातियों के निवास के कारण मिश्रित संस्कृति का विकास अंग्रेजों ने 1826 की यादबू संधि के तहत इसे अपने राज्य में मिला लिया ।
भारत के विभाजन के बाद मुस्लिम बहुल जिला सिलहट पूर्वी बंगाल ( वर्तमान बांग्लादेश ) में मिला दिया गया ।
असम के उत्तर में भूटान , तिब्बत और अरुणाचल प्रदेश , पूर्व में नागालैंड , तथा मणिपुर , दक्षिण में मेघालय तथा मिजोरम , पश्चिम में बांग्लादेश , त्रिपुरा तथा पश्चिम बंगाल स्थित हैं ।

महत्वपूर्ण तथ्य

*क्षेत्रफल : 78,438 वर्ग किमी
राजधानी : दिसपुर
जिले : 27
जनसंख्या : 3,12,05,576 ( 2011 )
लिंगानुपात : 958
जनसंख्या घनत्व : 398 ( 2011 )
वृद्धि दर ( 2001-2011 ) : 17.1 %
साक्षरता : 72.2 %
मुख्य भाषा : असमिया
विधान मण्डल : एकसदनीय
विधानसभा सदस्य : 1263
लोकसभा सदस्य : 14
राज्यसभा सदस्य : 7
असोम का शोक : ब्रहमपुत्र नदी
राष्ट्रीय पार्क : कांजीरंगा (जहाँ एक सिंग वाले गेंडे पाये जाते हैं!)
यह भी पढ़े भारत दर्शन-पंजाब राज्य Punjab State
यह भी पढ़े भारत दर्शन-सिक्किम राज्य Sikkim State

:Note:

राज्य के कुल क्षेत्रफल 35.28 % ( ISFR - 2013 ) क्षेत्र पर वन आच्छादन
जीवमण्डल क्षेत्र : मानस जीवनमण्डलीय भण्डार ( बारपेटा जिला )
मिकिर पहाड़िया असोम के करवी औंगलौंग जिले में स्थित हैं , यहाँ अपरदन जनित मोनाडनाक मिलता है ।
विश्व का सबसे बड़ा नदीय द्वीप माजुली ( 1150 वर्ग किमी.) ब्रह्मपुत्र नदी में शिवसागर तथा जोरहाट जिले में स्थित है ।
असोम की सर्वाधिक ऊँची चोटी झिंगतुबुम ( 1867 मी . ) है।
असोम राज्य में ब्रह्मपुत्र नदी के दाहिने किनारे पर स्थित कोकराझार , बोंगईगाँव , बारपेटा , नलबारी एवं दरांग जिले जहाँ बोडो जनजाति निवास करती है , जो स्वायत्त राज्य की मांग कर रही हैं ।
डिब्रुगढ़ असोम का एक जिला है जहाँ तेल का निक्षेप पाया जाता है । डिगबोई तेलशोधक कारखाना तथा नहरकटिया एवं नामरुप तेल क्षेत्र इसी राज्य के तिसुकिया जिले में स्थित है ।
राज्य की 80 % आबादी कृषि पर आधारित है ।
चावल यहाँ की मुख्य खाद्य फसल है ।
कृषि आधारित उदयोग में चाय का सर्वप्रमुख स्थान है । असोम भारत का सर्वाधिक चाय उत्पादक राज्य है ।
उद्योगों में असोम में पेट्रो - रसायन उद्योग सर्वाधिक विकसित है । यहाँ पर नूनामती , गुवाहाटी , डिब्रूगढ़ एवं बोगाइ गाँव में तेलशोधक कारखाने स्थित है ।
बिहू ' असोम का मुख्य यह तीन प्रकार से मनाया जाता है ।
1.रंगोली बिहू या बोहाग बिहू खेती के मौसम के शुभारम्भ का प्रतीक है । इससे नये वर्ष का शुभारम्भ भी होता है ।
2.भोगली बिहू , फसल की कटाई का त्यौहार है ।
3.कांगली बिहु , किसान अपने फुरसत के क्षणों में मनाते हैं ।
असोम के अन्य जनजातीय त्यौहार - बाथो , खैरे पूजा , गोबरा , बैसाटक आदि पर्व है ।
भारत का सबसे लंबा नदी सड़क पुल ब्रह्मपुत्र नदी पर भूपेन हजारिका है जिसकी लंबाई 9012 मीटर है

No comments:

Post a Comment

Created By Dharmendar GOur