भारत दर्शन-पंजाब राज्य Punjab State

पंजाब राज्य का भूगोल , पंजाब राज्य का प्रशासन , पंजाब राज्य का इतिहास
पंजाब शब्द फारसी भाषा के दो शब्दों से मिलकर बना है । पहला ' पंज ' जिसका अर्थ पांच एवं दूसरा ' आब ' जिसका अर्थ जल है । अर्थात् यह राज्य पांच जल धाराओं की मिलन स्थली है । ( LAND OF FIVE RIVERS )
राज्य में बहने वाली पांच नदियों यथा- झेलम , चिनाब , रावी , व्यास तथा सतलज हैं ।
यहां पर मौर्य , यूनानी , शक , कुषाण एवं गुप्त आदि अनेक शासकों ने शासन किया ।
मध्यकाल में यह राज्य मुसलमानों के भी अधीन रहा ।
पंजाब में सीखः आबादी बहुल हैं सिक्खों के दसवें गुरू गोविन्द सिंह ने 1699 में खालसा पंथ की स्थापना की ।
वर्ष 1849 में पंजाब ब्रिटिश शासन के अधीन हो गया ।
स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद अनेक रियासतों को मिलाकर एक पेप्सू राज्य का निर्माण किया गया and राजधानी पटियाला बनायी गयी । 1956 में राज्यों के पुनर्गठन के पश्चात् पंजाब को तीन इकाइयों में बांट दिया गया
1. पंजाब जिसमें पंजाबी भाषी इलाके शामिल थे ,
2. हरियाणा जिसमें हिन्दी भाषी इलाके शामिल थे
3. पहाड़ी इलाके जो हिमांचल प्रदेश में मिला दिये गये ।
यह भी पढ़े सिक्किम राज्य
राज्य का क्षेत्रफल : 50362 वर्ग किमी
राजधानी : चंडीगढ़
जनसंख्याः 2,7743338
लिंगानुपात : 895
जनसंख्या घनत्वः 551
साक्षरता : 75.8 %
कुल जिले : 22
मुख्य भाषा : पंजाबी
विधान मण्डल : एकसदनीय
विधानसभा सदस्य : 117
लोकसभा सदस्य: 13
राज्यसभा सदस्य :7
सड़को की कुल लम्बाई 63833 km
राष्ट्रिय राजमार्ग की कुल लम्बाई 2136.15km

Note
कृषि प्रधान राज्य होने के कारण यहाँ के 86 प्रतिशत भौगोलिक क्षेत्र पर कृषि होती है ।
मक्का , चना , दलहन , तिलहन , गत्ला , कपास एवं आलू यहां की अन्य मुख्य खाद्य फसने हैं ।
“ अमृतसर का स्वर्ण मन्दिर , दुर्गियाना मंदिर , जलियावाला बाग , आखड़ा नांगल , आनंदपुर साहिब , जालंधर सिटी , लुधियाना , पठानकोट , रोपड़ ( सिंधु घाटी की सभ्यता का एक केन्द्र ) आदि प्रमुख पर्यटक स्थल हैं ।

Comments